Bihar ki awaaz, Latest Bihar political News, Bihar crime news in hindi – बिहार की आवाज़
  • Home
  • Latest
  • मुजफ्फरपुर कांड की सीबीआई जांच की मांग की किसानों की आर्थिक मजबूती के लिए हो खास पहल कृषि को मिले उद्योग का दर्जा
Latest पटना बिहार

मुजफ्फरपुर कांड की सीबीआई जांच की मांग की किसानों की आर्थिक मजबूती के लिए हो खास पहल कृषि को मिले उद्योग का दर्जा

पटना। जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश उर्फ पप्‍पू यादव ने आज केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की और मुजफ्फरपुर बालिकागृह कांड की सीबीआई जांच कराने की मांग की। इस दौरान केंद्रीय गृहमंत्री ने बिहार सरकार से बात की और इसके बाद राज्‍य सरकार मुजफ्फरपुर कांड की सीबीआई जांच के लिए तैयार हो गयी है। मुलाकात के दौरान सासंद ने एक ज्ञापन भी गृहमंत्री को सौंपा।
बाद में श्री यादव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि राज्‍य सरकार का निर्णय जन अधिकार पार्टी (लो) के आंदोलन की नैतिक जीत है। यह जन दबाव में सरकार का लिया गया फैसला है। उन्‍होंने कहा कि मुजफ्फरपुर कांड से बिहार शर्मसार हो गया है। इससे मानवता कलंकित हो गयी है। मुजफ्फरपुर समेत राज्‍य में संचालित हो रही बालिकागृह की स्थिति चिंताजनक है। मुजफ्फरपुर बालिकागृह की जांच हुई तो मामले का खुलासा हुआ। राज्‍य के अन्य बालिका गृहों की भी जांच की जानी चाहिए। लड़कियों को सुरक्षा प्रदान करने का पुख्‍ता इंतजाम होना चाहिए।
सांसद ने पानी के गहराते संकट पर चिंता जताते हुए कहा कि नदियां प्रदूषित हो रही हैं। इसका सीधा असर जन-जीवन पर पड़ रहा है। उत्‍तर बिहार में 17 नदियां हैं और नदियों के कारण तबाही आती है। सरकार ने नदियों को जोड़ने का निर्णय लिया था, लेकिन इस दिशा में अभी तक कोई कारगर कदम नहीं उठाया गया है। गंभीर प्रयास नहीं किया गया। फरक्‍का बराज को खत्‍म करने की बात हो रही है। लेकिन कुछ नहीं हुआ। श्री यादव ने कहा कि उत्‍तर बिहार की तबाही में बड़ी भूमिका कोसी की रही है। सरकार कोसी बराज के चौड़ीकरण की बात कर रही थी। इस दिशा में भी कोई पहल नहीं की। कोसी की तबाही को कम करने के लिए हर साल अरबों रुपये आते हैं, लेकिन पूंजीपति, माफिया व अपराधी अधिकतर राशि को लूट लेते हैं। इस कारण हर योजना निष्‍फल रही। सांसद ने कहा कि किसानों की हालत भी बदतर है। बाढ़ व सूखाड़ दोनों की मार किसानों पर ही पड़ती है। श्री यादव ने कहा कि किसानों के हालत में सुधार के लिए कृषि को उद्योग को दर्जा दिया जाये। बटाईदारों को किसानों की श्रेणी में रखा जाए और नहरों व तालाबों के जीर्णोद्धार भी किया जाये।

Related posts

Vidhayak dadan pahalwan ki sabha

Binay Kumar

सुपौल AISU के जिला अध्यक्ष बने राहुल कुमार

Mukesh

पतरघट: धार्मिक भावनाओं को आहत करनेवाली वीडियो क्लिप वायरल करने पर तीन युवक गिरफ्तार भेजा गया जेल

Mukesh

Leave a Comment