Bihar ki awaaz, Latest Bihar political News, Bihar crime news in hindi – बिहार की आवाज़
  • Home
  • Latest
  • बेटी बचेगी,तभी बचेगी मानवता : के०पी०यादव प्रधानाचार्य
Latest बिहार मधेपुरा राज्य होम

बेटी बचेगी,तभी बचेगी मानवता : के०पी०यादव प्रधानाचार्य

मधेपुरा: ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय मधेपुरा में शुशी दिवस पर आयोजित संगोष्ठी में वक्ताओं ने कहा कि महिला जननी है और इनके ऊपर ही मनुष्य का अस्तित्व निर्भर करता है। महिलाओं के बिना मनुष्य जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती है। अतः महिलाओं की सुरक्षा पूरी मानवता की सुरक्षा है। बेटी को बचाने का अर्थ मानवता को बचाना है। बेटी बेचेगी, तो बेचेगी मानवता। यह बात प्रधानाचार्य डॉ. के. पी. यादव ने कही। वे शुक्रवार को ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय, मधेपुरा में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ विषयक संगोष्ठी में बोल रहे थे। संगोष्ठी का आयोजन राष्ट्रीय कन्या शिशु दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना की तीनों इकाइयों के संयुक्त तत्वावधान में किया गया। इस आयोजन के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार के निदेशानुसार युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय का भी पत्र प्राप्त हुआ था।

प्रधानाचार्य ने कहा कि महिलाएं हमारे समाज की आधी आबादी हैं। महिलाओं की उन्नति पर ही समाज एवं राष्ट्र की उन्नति निर्भर करती है। इसलिए हम सबों को यह संकल्प लेना चाहिए कि हम महिलाओं को हर क्षेत्र में आगे बढ़ाने में मदद करेंगे। हम बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ को एक सरकारी कार्यक्रम नहीं, बल्कि सामाजिक अभियान के रूप में लें।

प्रधानाचार्य ने कहा कि भारत में जननी एवं जन्मभूमि को स्वर्ग से भी महान माना गया है। हमरी संस्कृति में महिलाओं को देवी के रूप में पूजा जाता है। प्राचीन भारत की महिलाएँ शिक्षा के क्षेत्र में भी अग्रणी रही हैं। लेकिन दुख की बात है कि आज हमारे देश में महिला सुरक्षा एवं महिला शिक्षा की स्थिति संतोषप्रद नहीं है।

मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए सिंडीकेट सदस्य डाॅ. जवाहर पासवान ने कहा कि भारतीय संविधान देश के सभी नागरिकों को समान अधिकार देता है। लेकिन समाज में आज भी महिलाओं को दोयम दर्जा प्राप्त है। यह चिंताजनक है।

सम्मानित अतिथि संस्कृत की असिस्टेंट प्रोफ़ेसर खुशबू शुक्ला ने कहा कि भारत का इतिहास मैत्रैयी, गार्गी, लोपामुद्रा, घोषा, उपाला, भारती जैसी विदुषी महिलाओं से गौरवान्वित है। स्वतंत्रत भारत में भी महिलाओं ने मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री एवं राष्ट्रपति तक का सफर तय किया है। इसके बावजूद आम महिलाओं के शिक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा के संबंध में बहुत कुछ किया जाना बाकि है।

कार्यक्रम का संचालन जनसंपर्क पदाधिकारी डाॅ. सुधांशु शेखर ने किया। धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रम पदाधिकारी डाॅ. उपेन्द्र प्रसाद यादव ने की।

इस अवसर पर डाॅ. विजय, डाॅ. गजेन्द्र कुमार, डेविड यादव, आभा रानी यादव, रीना सिन्हा, अनिता कुमारी, कुमारी मनसा, नीलू कुमारी, रीता कुमारी, शशिनाथ झा, शंकर दास, ओम प्रकाश, उमेश कुमार, डाॅ. अरूण कुमार, डाॅ. एन. के. निराला, परमानंद प्रसाद, दिनेश कुमार, डाॅ. दीप नारायण यादव, अनिल कुमार, राजेन्द्र प्रसाद यादव, नंदकिशोर कुमार, शिव किशोर सिंह, अरविंद कुमार, धीरेन्द्र कुमार, उमेश प्रसाद यादव, शंकर आर्य, अभिनंदन यादव, विष्णुदेव प्रसाद यादव, संजय कुमार, रवि शंकर, नरेश कुमार आदि उपस्थित थे।

Related posts

नशा मुक्त बनाने को लेकर कार्यक्रम

Binay Kumar

गौतम आनंद प्रदेश अध्यक्ष बनने पर जाप मधेपुरा छात्रों ने दी बधाई

Mukesh

जनकपुर के निकट सफारी टेम्पू की टक्कर में 1 की मौत 4 घायल

Mukesh

Leave a Comment