Bihar ki awaaz, Latest Bihar political News, Bihar crime news in hindi – बिहार की आवाज़
  • Home
  • Latest
  • ठाकुरगंज में स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही है धज्जियां जैविक शौचालय लावारिस हालात में रखा हुआ है
Latest किशनगंज बिहार राज्य होम

ठाकुरगंज में स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही है धज्जियां जैविक शौचालय लावारिस हालात में रखा हुआ है

किशनगंज / ठाकुरगंज संवाददाता जकी अनवर :-

विगत 1 वर्ष से लावारिस हालत में पड़ा है जैविक शौचालय अधिकारियों की मिलीभगत से स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही धज्जियां

ठाकुरगंज:विगत 1 वर्ष से लावारिस हालत में पड़ा है जैविक शौचालय अधिकारियों की लापरवाही से या यूं कह मिलीभगत से स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही धज्जियां। आपको बता दें कि भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने राजपथ पर 2 अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान का शुभारंभ किए थे । प्रधानमंत्री ने स्वयं झाड़ू उठाई और देशभर में स्वच्छ भारत अभियान को एक जन आंदोलन बताते हुए उनकी शुरुआत की ‌वहीं बॉलीवुड हस्तियों से लेकर टीवी कलाकार भी सक्रिय रूप से इस अभियान में शामिल हुए थे।उन्होंने ना गंदगी करेंगे ना करने देंगे का मंत्र दिया था बरहाल उनके ही अधिकारी स्वच्छ भारत अभियान की धज्जियां उड़ा रहे हैं। जी हां हम बात कर रहे हैं ठाकुरगंज नगर पंचायत क्षेत्र में स्थित आदिवासी टोला वार्ड नंबर 4 और वार्ड नंबर 3 की जहां लाखों की लागत से खरीदी गई जैविक शौचालय शोभा का वस्तु बनकर पड़ी हुई है और स्वच्छ भारत अभियान की धज्जियां उड़ा रहे हैं। आदिवासी टोला में नगर पंचायत ठाकुरगंज के द्वारा जैविक शौचालय उपलब्ध कराया गया था ताकि स्थानीय लोगों इसका सही इस्तेमाल कर सकें। प्रधानमंत्री के संकल्प को पूरा करें पर ठाकुरगंज नगर पंचायत के अधिकारियों की मिलीभगत से प्रधानमंत्री के द्वारा चलाए गए स्वच्छ भारत अभियान एवं खुले में शौच मुक्त अभियान पर धज्जियां उड़ा रहे हैं । विगत 1 वर्ष खराब पड़ा है जैविक शौचालय बरहाल महिला एवं गांव के लोग खुले में शौच करने को मजबूर बता दें कि बिहार सरकार के द्वारा जल जीवन हरियाली एवं कई प्रकार की कार्यक्रम का संचालन किया गया है बरहाल बिहार सरकार की भी योजनाओं पर अधिकारियों की मिलीभगत से कालिख पोता जा रहा है। ठाकुरगंज नगर पंचायत के आदिवासी टोला में लावारिस हालत में पड़ा जैविक शौचालय में बिजली एवं पानी की व्यवस्था नहीं रहने के कारण खेत व सड़क के किनारे लावारिस हालत में पड़ा है शौचालय अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहे हैं चीख रहे हैं पुकार रहे हैं पर नीतीश के अधिकारियों को तो देखिए सोए हुए हैं कुंभकरण की नींद में आखिर कब टूटेगी नीतीश के अधिकारियों के नींद एक तरफ जहां सरकार खुले में शौच मुक्त के अभियान चला रहे हैं गांव-गांव लोगों को जागरूक किया जा रहा हैं वहीं दूसरी तरफ ठाकुरगंज नगर पंचायत के अधिकारियों की मिलीभगत से इस अभियान की धज्जियां उड़ रही है। जब इस विषय पर लोगों से बात की गई तो लोगों ने कहा कि नगर प्रशासन के द्वारा आश्वासन के सिवा आज तक कुछ नहीं मिला। बरहाल यह बात तो छोड़िए। जहां सरकार और प्रशासन खुले में शौच करने पर प्रतिबंध लगाए हैं तो वहीं ठाकुरगंज नगर पंचायत के लोग खुले में शौच करने को मजबूर है बेबस है। वही जब इस विषय पर ठाकुरगंज नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी से बात की गई तो उसने आश्वासन के सिवा कुछ नहीं दिया और अपना पल्ला झाड़ दिए। सबसे बड़ा सवाल तो यह है कि सरकार के द्वारा कई योजनाओं की संचालन की जा रही है परंतु अधिकारियों की मिलीभगत से या यूं कह के अधिकारियों की लापरवाही से इस योजनाओं की धज्जियां उड़ रही है इसमें देखने वाली बात यह होगी कि इसमें उच्च अधिकारी क्या संज्ञान लेते हैं।

Related posts

स्व० रामचंद्र पासवान के तैल्य चित्र पर श्रद्धांजलि अर्पित किया गया

Binay Kumar

देशवासियों के पेट की आग बुझाने वाले किसानों की जिंदगी में आखिर कब तक?

anand

लालू परिवार पर पप्पू यादव का जोरदार हमला,कहा संस्कार में है झूठ और कुकर्म..

anand

Leave a Comment