Bihar ki awaaz, Latest Bihar political News, Bihar crime news in hindi – बिहार की आवाज़
  • Home
  • Latest
  • शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले प्रखंड में पदस्थापित
Latest किशनगंज बिहार राज्य होम

शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले प्रखंड में पदस्थापित

किशनगंज/ ठाकुरगंज:- संवाददाता ज़की अनवर

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर ठाकुरगंज प्रखंड शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले प्रखंड में पदस्थापित सभी इकाइयों के नियोजित शिक्षक-शिक्षिकायें 17 फरवरी सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। हड़ताल के प्रथम दिवस सैकड़ों शिक्षक-शिक्षिकाओं ने बी आर सी ठाकुरगंज के परिसर में उपस्थित होकर धरना-प्रदर्शन में भाग लेकर अपनी एकजुटता दर्शाया। इस क्रम में बिहार सरकार के भेदभावपूर्ण नीति और दमनकारी नीतियों के प्रति रोष जताते हुए जमकर नारेबाजी की गयी। इस हड़ताल की सबसे बड़ी उपलब्धि यह रही कि इस प्रखंड के बी आर पी सहित सभी सी आर सी सी भी खुलकर हड़ताल में शामिल हुए हैं। मौके पर मौजूद बी आर पी एजाज अनवर ने सभी हड़ताली को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस प्रखंड के सभी शिक्षक हड़ताल को लेकर बगैर किसी संशय या दवाब के गोलबंद होकर अपनी मांग पूर्ण होने तक एकजुट रहेंगे। समन्वय समिति के अध्यक्ष मंडल व सचिव मंडल में शामिल ब्रजेश सिंह, इकबाल अहमद, अविनीत पाठक, नीलेश भारती,अब्दुल करीम के संग तपेश वर्मा,उज्जवल कुमार ने संयुक्त रूप से कहा कि प्रखंड के सभी शिक्षक-शिक्षिकायें अपनी मांग पूर्ण होने तक दृढ़ संकल्प के साथ अनिश्चितकाल तक एकजुट रहते हुए रोजाना अपनी-अपनी उपस्थिति बी आर सी के बाहर आयोजित होने वाले धरना-प्रदर्शन में दर्ज कराते रहेंगे।इन नेताओं ने स्पष्ट रूप से कहा कि उनकी एक ही मांग है कि उन्हें राज्यकर्मी का दर्जा मिले व नियमित शिक्षकों को मिल रहे वेतनमान के साथ-साथ उनकी ही सेवा शर्तों से उन्हें आच्छादित किया जाय।
नियोजित शिक्षकों के हड़ताल पर चले जाने से प्रखंड के सभी प्राथमिक, मध्य, माध्यमिक विद्यालयों में पठन-पाठन ठप्प हो  गया है। 
हड़ताली शिक्षकों द्वारा प्रखंड के सभी नियमित शिक्षकों के घर-घर जाकर नियमित शिक्षकों के संघठन बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा भी इस हड़ताल में शामिल होने सम्बंधित घोषणा-पत्र को दिखाया जा रहा है। साथ ही उनसभी से अपील किया जा रहा है कि वे भी बगैर भेदभाव के इस हड़ताल में शामिल होकर प्रखंड के तमाम विद्यालयों में पूर्ण तालाबंदी सुनिश्चित करवाने में सहयोग करेंगे।
इसके अलावे सोशल मीडिया पर अभिभावकों के नाम अपील भी जारी किया गया है जिसमें इन हड़ताली शिक्षकों ने अपने हड़ताल के समर्थन में तर्कों को देकर उन्हें समझाने का प्रयास किया है ताकि समाज के सभी वर्गों का सहयोग भी इस हड़ताल को सफल बनाने में मिलना तय हो सके।
  धरना-प्रदर्शन में सम्पा दास गुप्ता, जेबा आरा, शांति सुमन, बेबी कुमारी, सीता कुमारी,कुमारी निधि,पिंकी कुमारी, गोपा कुंडू, असफीना इकबाल, मोनिका पंडित, बेनजीर भुट्टो, प्रिया सुमन,राजलक्ष्मी राय, श्वेता भारती, अरुणा सिंह,इति देवी, सीमा कुमारी, नूतन, मधुलता, वसन्ती, तारा देवी, नज़ीफ़ा, नाहिदा फारूकी, जीनत प्रवीण, गुलनाज बेगम, मीना कुमारी, आरती, भारती कुमारी, चयनिका घोषाल, मोनालिशा, पुष्पा कुमारी, स्नेहलता, चंदा दास, कल्पना कुमारी, निर्मला गुप्ता, सरिता कुमारी, जमीला खातून, रुखसाना, ज्योति कुमारी, मुर्शीदा, रिजवाना, प्रमिला, जीनत आरा, सगुफ्ता, साधना चौधरी, फरजाना बेगम, मंजीरा, नाहिदा बेगम, जिल्ले हुमा, शबनम कुमारी, गुड़िया कुमारी, मुमताज बेगम, रोजी बेगम, रिजवी सजेदा बेगम के साथ प्रवीण यादव, मदन मोहन प्रसाद, मो मसीहउज्जमा, मलेंद्र कुमार, उदय कुमार, धनवीर प्रसाद, गौरी शंकर सिंह, सरवर आलम,चंद्र दीप महतो आदि संकुल समन्वयकों सहित वाहिद आलम, सरफराज अहमद, तहसीन रजा, जमालुद्दीन, प्रणव कुमार, शिव कुमार पासवान, नवीन यादव, राजेश यादव, त्रिवेणी पंडित, जहिदुर रहमान, जमील अख्तर, जुनैद आलम, सरवर आलम, तनवीर आलम, अजय कुमार शर्मा, मीर अनीश, पंकज राम, मैनुल हक, आबिद हुसैन, हरमुज आलम, सुजीत कुमार, शोएब आलम, मुजफ्फर, अब्दुल मतीन, पुनीत यादव, शाहरुख अल्तमश, राहुल यादव, रामजीवन कुमार, प्रसंजीत कुमार, उपेन्द्र साह, उपेन्द्र राम, असकार आलम, बुलन्द हाशमी, गंगानंद राय, मिराज आरिफ, मो हन्नान, धीरज कुमार, हृदय नारायण , हरदेव सिंह, गौरी शंकर सिंह, बरुण कुमार, पंचानंद सिंह, हैदर अली अंसारी, फरीद अहमद, रफीक आलम, सफीक आलम, दीप नारायण सिंह, अमित कुमार, प्रदीप दत्ता, राजेश झा, तारक पांडेय, वसन्त राय, सरोज कुमार,नईमुद्दीन, अंसरुल हक , कुमार सन्त राजेश,नुमान केशर, मो मुर्सलीन, अलबेला पासवान, सुगाँती , बिमल कृष्ण दास, अमर राय, ललिन्द्र पासवान, दिवाकर सिंह, अब्दुल मालिक, हीरा लाल महतो, नीलेश कुमार, मो सादिक आलम, नवलेश कुमार, राकेश कुमार राय, तरुण सिंह, सुरेंद्र सिंह, मनमोहन कुमार, मांगन दास, मुज़्तर आलम,मनोज कुमार,अर्जुन पासवान, दयाशंकर सिंह,देवोत्तम कुमार, मो अफसर अली,विनोद कुमार, साकिब सदानी, शाहनवाज, संजीत कुमार आदि सैकड़ों शिक्षक मौजूद रहें।

Related posts

आज के नौनिहाल देश का भविष्य

Binay Kumar

पटना: सरकारी कर्मी अगर ट्रैफिक नियमों को तोड़ेंगे तो डबल जुड़वाना लगेगा

Mukesh

रहठा फनहन में चला सड़क स्वच्छता अभियान

Mukesh

Leave a Comment