Bihar ki awaaz, Latest Bihar political News, Bihar crime news in hindi – बिहार की आवाज़
  • Home
  • Latest
  • BiG News – पसराहा के थानेदार आशीष सिंह को मिली सच्ची ‘श्रद्धांजलि’, STF ने कुख्यात दिनेश को मारी ताबड़तोड कई गोलियां
Latest खगरिया बिहार राज्य होम

BiG News – पसराहा के थानेदार आशीष सिंह को मिली सच्ची ‘श्रद्धांजलि’, STF ने कुख्यात दिनेश को मारी ताबड़तोड कई गोलियां

BiG News – पसराहा के थानेदार आशीष सिंह को मिली सच्ची ‘श्रद्धांजलि’, STF ने कुख्यात दिनेश को मारी ताबड़तोड कई गोलियां

एसटीएफ के साथ दिनेश मुनि की यह मुठभेड़ नवगछिया के भवानीपुर के नारायणपुर दियारा इलाके में हुई। इस दौरान पुलिस को हथियार भी मिले हैं।

बिहार पुलिस की एसटीएफ (Bihar Police STF) को बड़ी सफलता मिली है. एसटीएफ की टीम ने नवगछिया के भवानीपुर इलाके में एनकाउंटर कर थानेदार शहीद आशीष सिंह के हत्यारे दिनेश मुनि (Criminal Dinesh Muni Encounter)को ढेर कर दिया है। एसटीएफ के साथ दिनेश मुनि की यह मुठभेड़ नवगछिया के भवानीपुर के नारायणपुर दियारा इलाके में हुई।

मौके से हथियार बरामद

इस दौरान जहां दिनेश मुनि मारा गया वहीं पुलिस की टीम ने मौके से दो कार्रबाइन और एक बंदूक भी बरामद किया है।दिनेश मुनि इलाके का कुख्यात था साथ ही खगड़िया जिले के पसराहा के थानेदार आशीष सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी था। पसराहा के थानेदार आशीष सिंह की हत्या 12 अक्टूबर 2018 को नारायणपुर इलाके में एनकाउंटर के दौरान कर दी गई थी।

दो साल पहले हुई थी थानेदार की हत्यादो साल पहले हुई मुठभेड़ के दौरान जहां थानेदार आशीष सिंह शहीद हो गए थे वहीं एनकाउंटर में कुख्यात श्रवण यादव भी ढेर किया गया था। दिनेश मुनि के एनकाउंटर में मारे जाने की पुष्टि भागलपुर रेंज के डीआईजी सुजीत कुमार ने भी की है। इस मामले में विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है।

एसटीएफ को थी तलाश

दिनेश मुनि के बारे में कहा जाता है कि खगड़िया जिले के पसराहा थानाध्यक्ष आशीष सिंह के शहीद होने बाद दियारा के इलाके में उसकी तूती बोलती थी।अपने जांबाज थानेदार को खोने के बाद बिहार पुलिस की टीम भी काफी दिन से दिनेश मुनि की टोह में लगी थी और अंतत: उसे उसी के इलाके में ढेर कर दिया गया।जानकारी के मुताबिक वेश बदलने में माहिर दिनेश मुनि को पकड़ने का जिम्मा बिहार पुलिस की एसटीएफ को मिला था।

Related posts

शिक्षक एवं संस्कृत विभागाध्यक्ष अवकाश प्राप्त प्रोफेसर डॉ रघुवंश प्रसाद सिंह के आकस्मिक निधन

Binay Kumar

गरीब कल्याण योजना डबल इंजन सरकार का चुनावी जुमला है- एजाज अहमद

Pankaj kumar

भारत बंद में कई कुछ पार्टी उभरा तो कुछ डूबा

Mukesh

Leave a Comment